राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद सांसदों और विधायकों का समर्थन मांगने की शुरुआत यूपी से कर रहे हैं। कोविंद रविवार शाम कालीदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास पर भाजपा के सांसदों और विधायकों से चाय पर मिलने पहुंचे। इस मौके पर लोकसभा के सदस्यों और यूपी से राज्यसभा सदस्य भी बुलाए गए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह हम लोगों का दायित्व है कि यदि कोविंद नहीं भी आते तो भी राष्ट्रपति चुनाव में उन्हें समर्थन करते। कोविंद का जीवन गरीबों, दलितों आदि को समर्पित रहा है।

उधर, कोविंद को रिकार्ड मतों से जिताने के लिए भाजपा ने विपक्षी दलों के विधायकों पर डोरे डालने शुरू कर दिए हैं।  कोविंद की जीत को यूपी के सम्मान से जोड़कर विपक्षी दलों के विधायकों को समझाया जा रहा है।

सूत्रों के अनुसार भाजपा ने सपा,बसपा और कांग्रेस के विधायकों को कोविंद के पक्ष में वोट डलवाने का जिम्मा एक पूर्व काबीना मंत्री मौजूदा समय में प्रभावशाली निर्दलीय विधायक को सौंपा है। इन निर्दलीय विधायक का रामनाथ कोविंद से एक संस्था के मार्फत नाता है। दोनों ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पूर्व प्रचारक आशीष द्वारा संचालित दिव्य प्रेम सेवा मिशन से जुड़े हैं। बुंदेलखण्ड के आशीष हरिद्वार में दिव्य प्रेम सेवा मिशन के बैनर तले कुष्ठ रोगियों के इलाज और मदद के लिए संस्था चला रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here