वैज्ञानिकों ने एक ऐसी तकनीक का इजाद किया है जिससे स्मार्टफोन कुछ सेकंड्स में ही चार्ज हो सकते हैं. ऐसे दौर में जब स्मार्टफोन की बैटरी तेजी से डिस्चार्ज होती है, इस तरह की खोज लोगों को राहत पहुंचाने वाली है. शोधकर्ताओ की टीम में एक भारतीय मूल के रिसर्चर भी हैं.

शोधकर्ताओं ने एक नया इलेक्ट्रोड डिजाइन किया है जो स्मार्टफोन की बैटरियों को चंद सेकंड्स में ही चार्ज कर देगा. इस डिजाइन के तहत तेज सूपरकैपेसिटर की तरह तेजी से बैटरियों में उर्जा स्टोर की जाएगी.

अमेरिका की ड्रेग्जेल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इस इन इलेक्ट्रोड्स को डिजाइन करने के लिए दो डायेमेंशन वाले मेटेरियल MXene का प्रयोग किया है.

गौतलब है कि इलेक्ट्रोड्स बैटरी का मुख्य पार्ट होता है. इसके जरिए चार्जिंग के दौरान बैटरी में एनर्जी स्टोर होती है. यहीं से डिवाइस में जरूरी पावर मिलता है और आप स्मार्टफोन यूज कर पाते हैं. बैटरी के कॉम्पोनेंट्स का बेहतर डिजाइन वो होता है बैटरी को जल्दी चार्ज करके इसमें ज्यादा एनर्जी स्टोर करने में मदद कर सके.

शोधर्ताओं ने रेडॉक्स एक्टिव साइट एक हाइड्रोजेल इलेक्ट्रॉड डिजाइन किया है जो ज्यादा से ज्यादा चार्ज को स्टोर कर सके.

मौजूदा दौर में स्मार्टफोन चार्ज करने में घंटों लगते हैं. हालांकि मोबाइल कंपनियां लगातार तेजी से चार्ज होने वाली तकनीक ला रही हैं. अब हाई एंड मिड रेंज स्मार्टफोन्स में फास्ट चार्जिंग फीचर दिए जाते हैं. इसके तहत स्मार्टफोन्स 10 मिनट में लगभग 40 फीसदी चार्ज होते हैं.

हालांकि कुछ कंपनियां नई तकनीक पर काम कर रही हैं जिसके तहत 10 मिनट में बैटरियों को फुल चार्ज किया जा सकता है.

आने वाले समय में यह आविष्कार मोबाइल फोन कंपनियों के साथ कस्टमर्स के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होगा. फिलहाल यह साफ नहीं है कि इसे कब तक प्रयोग में लाया जाएगा.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here