उत्तर प्रदेश के रायबरेली में एक जाति विशेष के 5 लोगों के नरसंहार के मामले में अब सियासत गरमाने लगी है. इस मामले में अब सत्ता पक्ष के ही दो बड़े मंत्री आमने-सामने हैं. योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य जहां आज भी दबी जुबान में इन मृतकों को अपराधी बताने पर तुले हैं, वहीं कानून मंत्री बृजेश पाठक ने इशारों-इशारों में मौर्य पर ही कार्रवाई की बात कह दी.

दरअसल स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि ‘अगर कोई मारने आएगा तो उसकी आरती नहीं उतारी जा सकती.’ मौर्य के इस बयान पर बिफ़रते हुए बृजेश पाठक ने कहा कि साजिश के तहत आरोपियों को बचाने का प्रयास हो रहा है और हत्यारों को बचाने में शामिल लोगों पर भी कार्रवाई होगी. इन बयानों से साफ है कि योगी सरकार के दोनों कैबिनेट मंत्री इस मुद्दे पर आमने-सामने आ गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here