उत्तर प्रदेश के बागपत में एक गांव में हिंदू लड़की और मुस्लिम लड़के की शादी के बाद तनाव बढ़ गया है। मामला बागपत के पिचकौरा गांव का है। 22 वर्षीय कोमल ने सलमान को अपना हमसफर चुना लेकिन कई संगठनों द्वारा इसका विरोध किया जा रहा है। बीते सोमवार (10 जुलाई) को कोमल ने कोर्ट में दावा किया कि उसने अपनी मर्जी से सलमान से शादी की है। इसी बीच शादी का विरोध करने के लिए कोर्ट के बाहर कई हिंदू संगठनों समेत काफी लोग जमा हो गए। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने कोमल और सलमान को किसी सुरक्षित जगह पर पहुंचाया। वहीं इस शादी का विरोध करते हुए आरएसएस से जुड़े संगठन हिंदू जागरण मंच ने लड़की को अपने परिवार के पास वापिस लौटने के लिए भी कहा है। इसके अलावा संगठन ने महापंचायत बुलाने का फैसला भी लिया है।

वहीं बजरंग दल ने भी दोनों की शादी पर ऐतराज जताते हुए कहा है कि सलमान ने जबरन कोमल को इस्लाम धर्म कुबूल करवाया है। तनाव की स्थिति के बीच सलमान के परिवार ने गांव छोड़ दिया है। परिवार को डर है कि लोग उन पर हमला कर सकते हैं। कोमल अभी एक अंडरग्रेजुएट है वहीं सलमान दिहाड़ी मजदूरी करता है। दोनों पड़ोसी थे और 25 जून को दोनों गांव से चले गए थे। कोमल की शादी एक लड़के से तय कर दी गई थी जिसे उसके परिवार ने चुना था। सलमान के पिता सब्बीर अली और पूरा परिवार बीते मंगलवार (11 जुलाई) को गांव छोड़कर चले गए। परिवार के लगभग 24 सदस्यों ने गांव छोड़ दिया है। वहीं गांव के प्रमुख हाजी फरमान अली ने बताया कि कोमल के लौटने के बाद गांव में हिंदू संगठनों का आना बढ़ गया है। कोमल कोर्ट में पेशी के लिए वापिस लौटी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here